Secure Your Original Work Through ISBN
RESEARCH PROJECTS :: DISSERTATION :: DIPLOMA THESIS MASTER THESIS :: DOCTRATE THESIS :: REFERENCE BOOKS :: TEXT BOOKS
BHARTIYE STHAPATYA KI AMULYA NIDHI JAIN MANDIR
First Edition, September 2022 : Size : A5
ISBN-13 : 978-93-91462-31-4 : Pages : xiv+188
Code No. : VSRDAPTNT-255 : Price : Rs. 250.00
PRINTED IN SINGLE COLOUR : Export Price : US $ 25.00

Dr. Prabhat Kumar Singhal
डॉ.प्रभात कुमार सिंघल - कोटा में 1953 में जन्में डॉ.प्रभात कुमार सिंघल ने इतिहास में स्नातकोत्तर तक शिक्षा प्राप्त कर जन संचार एवं पत्रकारिता में स्नातकोत्तर डिग्री और इतिहास में पीएच.डी. की उपाधि प्राप्त की। आप 34 सालों तक राजस्थान सरकार के जन सम्पर्क विभाग में सेवाएं प्रदान कर अक्टूबर 2013 में ज्वाइंट डायरेक्टर पद से सेवा निवृत हुए हैं। आप लोक प्रिय जनसंपर्क कर्मी होने के साथ - साथ लेखक और वरिष्ठ पत्रकार हैं। आपकी अब तक विभिन्न विषयों पर 43 पुस्तकों का प्रकाशन किया जा चुका है, इनमें 14 पुस्तकों का संपादन किया है। कला,संस्कृति में और पर्यटन में गहरी रुचि होने से 18 पुस्तकें स्वयं और कुछ सह लेखकों के साथ पर्यटन के विविध पहलुओं पर लिखी हैं। आपको सेवा काल और पश्चात विभिन्न मंचों से कई बार उत्कृष्ट सरकारी सेवा, हिंदी सेवा, पत्रकारिता, पर्यटन लेखक, हिंदी साहित्य सेवा आदि से सम्मानित किया जा चुका है। वर्तमान में आप लेखन और पत्रकारिता में सक्रिय है।
Copyright (C) VSRD Academic Publishing || Design & Developed by VSIPL